मेयर पद की जीत विधायक को दे सकती मंत्री पद का तोहफा!

झांसीः बुन्देलखण्ड की तस्वीर बदलने की यूपी सरकार की कोशिशांे मे  झांसी की मेयर सीट पर जीत विधायक रवि शर्मा को तोहफा के रूप मे मंत्री पद दे सकती है? यह कयास मुख्यमंत्री के दौरे के बाद लगाये जा रहे हैं। अपनी पूरी ताकत के साथ दूसरी बार बार पार्टी का मेयर और अधिक संख्या मे सभासद बनाने की दिशा मे अंतिम पड़ाव पर पहुंचे रवि शर्मा को मिल रहा समर्थन कितना कारगर साबित होता है, यह कल होने वाले मतदान के बाद साबित होगा।

गौरतलब है कि बीते रोज झांसी आये यूपी के मुख्यमत्री योगी आदित्यनाथ ने बुुन्देलखण्ड के विकास के लिये कई कल्याणकारी योजनाआंे की घोषणा के साथ संकेत दिये थे कि जीत  मंे सामूहिक पहल हो। इसके बाद से विधायक खेमा प्रत्याशी रामतीर्थ सिंघल को जिताने की पुरजोर कोशिश कर रहा है।

वैसे रामतीर्थ को टिकट मिलने मे विधायक खेमे की अहम भूमिका मानी जा रही है। रवि को कुशल मैनेजर माना जाता है। यह उन्हांेने अपने चुनाव मे साबित करके दिखा दिया था।

नोटबंदी के बीच हुये विधानसभा चुनाव मे  रवि ने व्यापारियांे को पार्टी से जोड़ने मे  काफी सफलता हासिल की थी।

सूत्र बताते है कि रवि को बुन्देलखण्ड मे प्रतिनिधित्व नहीं मिलने की जानकारी मुख्यमंत्री को है। वो चाहते है कि रवि को मौका दिया जाए। माना जा रहा है कि रवि को इस जीत का हीरो मानकर उन्हंे तोहफा देने की तैयारी है। वैसे भी मंत्रिमंडल के विस्तार मे रवि को शामिल किये जाने की पूरी संभावना थी, लेकिन अंतिम समय मंे उन्हंे स्थान नहीं मिल पाया था। इस बात की कसक झांसी के लोगांे को आज भी सताती है।

अब रवि ने पिछले कुछ दिनांे मंे जिस प्रकार से चुनावी माहौल को भाजपा के पाले मंे लाने का काम किया है, उससे मुकाबला सीधे टक्कर वाला होता नजर आ रहा है। विधायक ने कल ही युवा व्यापारी नेता राजीव राय और उनके संगठन को समर्थन हासिल करने वाला बना दिया। हालांकि उप्र उद्योग व्यापार मंडल ने प्रदेश स्तर पर यह निणर्य लिया, लेकिन इसमंे अहम भूमिका विधायक की रही।

स्थानीय स्तर पर रवि ने सभी व्यापारियांे से सीधे संवाद किया है। कल होने वाले मतदान मंे भाजपा बढ़त बनाने की स्थिति मंे आ गयी है। कांग्रेस और बसपा को मुकाबले मंे कमजोर करने की रणनीति के तहत रवि का यह कदम कल कितना असरदार होगा, यह देखना दिलचस्प होगा।

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *