झांसी-ऐसी लापरवाही से अच्छी युवक को मौत ही दे देते!

झांसीः बुन्देलखण्ड में लोग कितने संवेदनहीन होते जा रहे हैं, इसका जीता जागता उदाहरण मेडिकल कालेज मे देखने को मिला। यहां एक युवक का कटा पैर उसके सिरहाने रख दिया। ऐसी लापरवाही की जानकारी के बाद अब मेडिकल प्रशासन जांच की बात कह रहा है।

शनिवार की सुबह लहचूरा थाना क्षेत्र में एक स्कूल बस उस समय पलट गई थी, जब बस के चालक ने सामने से आ ट्रैक्टर को बचाने का प्रयास किया था। इस घटना के बाद बस का चालक तो वहां से भाग गया था, मगर बस पलटने से आधा दर्जन स्कूली बच्चे और बस का क्लीनर लहचूरा थाना क्षेत्र के ग्राम इटायल निवासी घनश्याम 25 पुत्र देवकी बुरी तरह घायल हो गया था।

इस हादसे में उसका बांया पैर कटकर शरीर से अलग हो गया था। उसे गंभीर हालत में मेडिकल कॉलेज लाया गया। यहां काफी जद्दोजहर के बाद चिकित्सकों ने उसका उपचार शुरू किया। उसे पलंग के बजाए काफी देर तक स्ट्रेचर पर लिटाए रखा। इतना ही नहीं, लापरवाही की हद तो तब हो गई, जब उसे तकिया देने के बजाए घनश्याम सिर के नीचे उसी का कटा हुआ पैर लगा दिया।

मीडिया पहुंची तो हडक़ंप मच गया। आनन-फानन में उस पैर को हटा लिया गया। इस बारे में जब मेडिकल कॉले के सीएमएस डॉ. हरिश्चंद्र आर्य से बातचीत की गई तो उन्होंने तथ्यों के आधार पर दोषी के खिलाफ कार्रवाई किए जाने का आश्वासन दिया। बाद में तत्काल हालात की जानकारी लेने मेडिकल कॉलेज पहुंच गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *